भौतिक विज्ञान वस्तुनिष्ठ प्रश्न-उत्तर हिंदी में | B.Sc. I, Physics II book-Unit 1

भौतिक विज्ञान वस्तुनिष्ठ प्रश्न-उत्तर हिंदी में

प्रशन-1 आदर्श गैस के प्रति एकांक आयतन की गतिज ऊर्जा होती है-

(अ) शून्य
(ब) 2P/3
(स) 3P/2
(द) P/2

उत्तर- (स) 3P/2

प्रशन-2 रुद्धोष्म परिवर्तन के लिए T व V में संबंध है –

(अ) T.Vγ = नियतांक
(ब) \frac{V}{T} = नियतांक
(स) T.Vγ – 1 = नियतांक
(द) V.Tγ – 1 = नियतांक

उत्तर- (स) T.Vγ – 1 = नियतांक

प्रशन-3 नाइट्रोजन का क्रांतिक ताप होता है –

(अ) – 240° C
(ब) – 268° C
(स) – 229° C
(द) – 273° C

उत्तर- (ब) – 268° C

प्रशन-4 वायु की दो विशिष्ट ऊष्माओं की निष्पत्ति बराबर होती है-

(अ) 0.17
(ब) 0.24
(स) 0.1
(द) 1.41

उत्तर- (द) 1.41

प्रशन-5 संतृप्त जल वाष्प की 100°C पर विशिष्ट ऊष्मा होती है-

(अ) शून्य
(ब) धनात्मक
(स) ऋणात्मक
(द) इनमें से कोई नहीं

उत्तर- (स) ऋणात्मक

प्रशन-6 आदर्श गैस की आन्तरिक ऊर्जा निर्भर करती है-

(अ) केवल दाब पर
(ब) केवल आयतन पर
(स) केवल ताप पर
(द) ताप व आयतन दोनों पर

उत्तर- (स) केवल ताप पर

प्रशन-7 गैसें ‘आदर्श गैस’ की तरह व्यवहार करती है-

(अ) उच्च दाब पर
(ब) निम्न दाब व निम्न ताप पर
(स) उच्च ताप पर
(द) निम्न दाब व उच्च ताप पर

उत्तर- (द) निम्न दाब व उच्च ताप पर

प्रशन-8 किसी एक परमाणु गैस के अणु की औसत गतिज ऊर्जा होती है-

(अ) kT/2
(ब) kT
(स) 3RT/2
(द) 3kT/2

उत्तर- (द) 3kT/2

प्रशन-9 गैस के अणुओं की गतिज ऊर्जा किस ताप पर शून्य होती है-

(अ) – 273°C
(ब) 0°C
(स) 273°C
(द) 273 K

उत्तर- (अ) – 273°C

प्रशन-10 एक वायु मण्डलीय दाब का मान होता है-

(अ) 1.013 × 106 डायन/सेमी2
(ब) 1.013 × 105 डायन/सेमी2
(स) 1.13 × 106 डायन/सेमी2
(द) 1.4 × 106 डायन/सेमी2

उत्तर- (अ) 1.013 × 106 डायन/सेमी2

प्रशन-11 वास्तविक गैस के लिए बाॅयल ताप तथा क्रान्तिक ताप के बीच संबंध है-

(अ) TB = \frac{27}{8} TC
(ब)TB = \frac{8}{27} TC
(स) TB = \frac{T_C}{8}
(द) TB = \frac{T_C}{27}

उत्तर- (अ) TB = \frac{27}{8} TC

प्रशन-12 एक गैस के आयतन में 103 N/m2 दाब पर 0.25 m2 का प्रसार होता है। किया गया कार्य है-

(अ) 250 अर्ग
(ब) 250 जूल
(स) 250 वाट
(द) 250 न्यूटन

उत्तर- (ब) 250 जूल

प्रशन-13 एक मॉल वास्तविक गैस के लिए वाण्डर वाल्स समीकरण है-

(अ) P.V = nRT
(ब) (P + \frac{a}{V^2} )(V – b) = RT
(स) (P + \frac{a}{V^2} ) = nRT
(द) P = \frac{nRT}{V - ab} \frac{n^2a}{V^2}

उत्तर- (ब) (P + \frac{a}{V^2} )(V – b) = RT

प्रशन-14 वाण्डर वाल्स समीकरण में नियतांक a का वही मात्रक है जो निम्न का है-

(अ) P.V
(ब) P.V2
(स) P/V2
(द) P.V3

उत्तर- (ब) P.V2

प्रशन-15 वाण्डर वाल्स समीकरण में नियतांक b का मात्रक वही है जो निम्न का है-

(अ) P
(ब) V
(स) T
(द) P.V

उत्तर- (ब) V

प्रशन-16 जब एक गैस में रुद्धोष्म परिवर्तन किया जाता है तो गैस-

(अ) अपने परिवेश से ताप विमुक्त होती है
(ब) अपने परिवेश से यान्त्रिक विमुक्त होती है
(स) अपने परिवेश के साथ तापीय तथा यान्त्रिक संपर्क में होती है
(द) अपने परिवेश के साथ तापीय संपर्क में होती है

उत्तर- (अ) अपने परिवेश से ताप विमुक्त होती है

प्रशन-17 यदि ऑक्सीजन गैस का ताप 0°C से 273°C तक बढ़ा दे तो उसके अणुओं की औसत गतिज ऊर्जा हो जाएगी-

(अ) चौगुनी
(ब) यथावत्
(स) दोगुनी
(द) आधी

उत्तर- (स) दोगुनी

प्रशन-18 यदि गैस का ताप T K है तो उसके अणुओं की वर्ग-माध्य-मूल चाल अनुक्रमानुपाती होगी-

(अ) \sqrt{T} के
(ब) \frac{1}{\sqrt{T}} के
(स) T के
(द) T2 के

उत्तर- (अ) \sqrt{T} के

प्रशन-19 गैस के अणुओं की वर्ग-माध्य-मूल चाल का व्यंजक है-

(अ) \frac{\sqrt{P}}{ρ}
(ब) \sqrt{\frac{P}{3ρ}}
(स) \sqrt{\frac{3P}{ρ}}
(द) \sqrt{3Pρ}

उत्तर- (स) \sqrt{\frac{3P}{ρ}}

प्रशन-20 एक बर्तन में n अणु है। यदि अणुओं की संख्या बढ़ाकर 2n कर दी जाए तो गैस का दाब हो जाएगा-

(अ) दोगुना
(ब) चार गुना
(स) आधा
(द) चौथाई

उत्तर- (अ) दोगुना

प्रशन-21 ऐसी आदर्श गैस जिसके अणुओं की स्वतन्त्रता की कोटि n है के लिए निम्न में से क्या सही है-

(अ) \frac{C_P}{C_V} = 1 + \frac{2}{n}
(ब) \frac{C_P}{C_V} = 1 – \frac{2}{n}
(स) \frac{C_P}{C_V} = 1 + \frac{n}{2}
(द) \frac{C_P}{C_V} = 1 – \frac{n}{2}

उत्तर- (अ) \frac{C_P}{C_V} = 1 + \frac{2}{n}

प्रशन-22 एक परमाण्विक गैस के लिए γ का मान है-

(अ) γ = 1.4
(ब) γ = 1.33
(स) γ = 1.66
(द) इनमें से कोई नहीं

उत्तर- (स) γ = 1.66

प्रशन-23 किसी गैस का ‘क्रांतिक ताप’ होता है-

(अ) \frac{8a}{27b}
(ब) \frac{8a}{27Rb}
(स) \frac{a}{27b^2}
(द) 3b

उत्तर- (ब) \frac{8a}{27Rb}

प्रशन-24 वाण्डर वाल्स गैस समीकरण के अनुसार क्रांतिक आयतन Vc का मान होता है-

(अ) Vc = b
(ब) Vc = 2b
(स) Vc = 3b
(द) इनमें से कोई नहीं

उत्तर- (स) Vc = 3b

प्रशन-25 आदर्श गैस के लिए जूल के नियमानुसार-

(अ) ( \frac{∂U}{∂V} )T = 0
(ब) ( \frac{∂U}{∂P} )T = 0
(स) ( \frac{∂U}{∂T} )P = ( \frac{∂U}{∂T} )V
(द) उपर्युक्त सभी

उत्तर- (द) उपर्युक्त सभी

प्रशन-26 किसी गैस के मुफ्त प्रसार में-

(अ) dW = 0
(ब) dQ = 0
(स) dU = 0
(द) उपर्युक्त सभी

उत्तर- (द) उपर्युक्त सभी

प्रशन-27 आदर्श गैस के रुद्धोष्म प्रसार में किया गया कार्य होता है-

(अ) W = \frac{1}{(1 - γ)} (P1V1 – P2V2)
(ब) W = \frac{1}{(γ - 1)} (P1V1 – P2V2)
(स) W = R (T2 – T1)
(द) W = RT1 loge( \frac{V_2}{V_1} )

उत्तर- (ब) W = \frac{1}{(γ - 1)} (P1V1 – P2V2)

प्रशन-28 एक वायुमण्डलीय दाब पर वायु को अकस्मात् उसके मूल आयतन के 1/32 गुणा आयतन तक संपीडित किया जाता है। संपीडन के लिए निम्न दाब की आवश्यकता होती है-

(अ) 32 वायुमण्डलीय
(ब) 64 वायुमण्डलीय
(स) 128 वायुमण्डलीय
(द) 256 वायुमण्डलीय

उत्तर- (स) 128 वायुमण्डलीय

प्रशन-29 रुद्धोष्म तथा समतापीय वक्रों के बीच संबंध है-

(अ) समतापीय वक्र का ढाल = रुद्धोष्म वक्र का ढाल
(ब) समतापी वक्र का ढाल = γ × रुद्धोष्म वक्र का ढाल
(स) रुद्धोष्म वक्र का ढाल = γ × समतापीय वक्र का ढाल
(द) रुद्धोष्म वक्र का ढाल = \frac{1}{2} समतापीय वक्र का ढाल

उत्तर- (स) रुद्धोष्म वक्र का ढाल = γ × समतापीय वक्र का ढाल

भौतिक विज्ञान वस्तुनिष्ठ प्रश्न-उत्तर हिंदी में, Physics Objective Questions and Answer in Hindi, objective question with Answer for physics, physics objective question in Hindi pdf, physics mcq in Hindi, MCQ on physics in Hindi,

Read more :-

Read More –

  1. यान्त्रिकी एवं तरंग गति नोट्स (Mechanics and Wave Motion)
  2. अणुगति एवं ऊष्मागतिकी नोट्स (Kinetic Theory and Thermodynamics)
  3. मौलिक परिपथ एवं आधारभूत इलेक्ट्रॉनिक्स नोट्स (Circuit Fundamental and Basic Electronics)
Share This Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *